CORONAVIRUS

CORONAVIRUS क्या हैं एवं कोरोनावायरस के लक्षण क्या हैं?

हेलो दोस्तों इस पोस्ट में हम जानेंगे की कोरोना वायरस (CORONA VIRUS) क्या हैं ,एवं हम इस पोस्ट में यह भी जानेंगे की कोरोना वायरस फैला कैसे तथा इसके लक्षण क्या हैं यह किस देश में सबसे पहले पाया गया एवं इसके फैलने का कारन क्या हैं और यह कितने देशों में फेल चुका हैं

CORONAVIRUS-

CORONAVIRUS कई विषाणुओ का समूह हैं जो कई स्तनधारिओं एवं पक्षियों में रोग का कारक होते हैं, ये RNA वायरस होते हैं जो मानवो में श्वास तंत्र संक्रमण के कारण  फैलते हैं एवं कोशिकाओं में  मिलकर तेजी से वायरस को फैलाने का काम करता हैं इससे रोग प्रतिरोधक क्षमता भी प्रभावित होती हैं चीन में कोरोना वायरस से मरने वालों की संख्या में लगातार वृद्धि होती जा रही हैं विश्व स्वास्थ्य संगठन ने इसे इंटरनेशनल इमरजेंसी घोसित कर दिया हैं इस वायरस का सबसे ज्यादा प्रकोप चीन के वुहान प्रान्त में देखा गया हैं यह बहुत ही घतरनाक वायरस हैं जो आज दुनिया के 22 देशों में फ़ैल चूका हैं भारत में भी केरल राज्य में तीन मरीजों में कोरोना वायरस होने की पुस्टि हुई हैं। चीन में मरने वालों की संख्या में लगातार इजाफा होता जा रहा हैं चीन कोरोना वायरस से निपटने का लगातार प्रयास कर रहा हैं। यह अब  वैश्विक महामारी का रूप धारण कर चूका हैं , डॉक्टर्स अभी इसका कोई इलाज भी नहीं  ढूंढ पाएं हैं  स्वास्थ्य अधिकारीयों के अनुसार कोरोना वायरस को फैलने से रोकना एक बड़ी चुनौती बन गयी हैं।

कोरोना वायरस के लक्षण-

कोरोना वायरस से पीड़ित मरीज में बुखार, साँस लेने में तकलीफ, गले में खरास, नाक बहना जैसी समस्या हो सकती है। यह वायरस एक व्यक्ति से दूसरे व्यक्ति में तेजी से फ़ैल रहा हैं इसलिए कोरोना वायरस से बचने के लिए मास्क आदि का इस्तेमाल करे, अभी तक इसका कोई टीका नहीं बन पाया हैं यह वायरस व्यक्तियों के संपर्क में आने से ज्यादा फ़ैल रहा हैं यह मानव की रोग प्रतिरोधक क्षमता को भी प्रभावित करता हैं।

कोरोना वायरस की उत्पति कहा हुई ?

चीन के वुहान शहर के हुबेई प्रान्त में सबसे पहले कोरोना वायरस का पहला मरीज पाया गया। चीन में कोरोना वायरस का संक्रमण सबसे पहले दिसम्बर 2019 में हुआ। इस वायरस से पीड़ित ज्यादातर मरीज चीन के हुबेन में सी  फ़ूड मार्किट में मछली व अन्य जीवित जानवरो को बेचते थे, कोरोना वायरस पशुओं से आम लोगों में फैलने लगा। चीन में बहुत से लोगों को बिना किसी कारण निमोनिया होने लगा और जब उनकी जाँच की गयी वे पूरी तरह से कोरोना वायरस की चपेट में आते गए ,और धीरे – धीरे करके कोरोना वायरस एक व्यक्ति से दूसरे व्यक्ति तथा दूसरे व्यक्ति से तीसरे व्यक्ति में फैलने लगा जिसके कारण चीन के वैज्ञानिक इस वायरस का पता लगते यह बहुत बड़ी संख्या में लोगों तक फैल चूका था। आज यह भारत समेत दुनिया के कई देशों तक फैल चूका हैं।

कोरोना वायरस से बचने के उपाय –

कोरोना वायरस बहुत ही खतरनाक वायरस हैं इस वायरस से चीन में काफी अधिक संख्या में लोगों की मृत्यु हो चुकी हैं यह वायरस लगातार एक व्यक्ति से दूसरे व्यक्ति में फैलता जा रहा हैं और अभी तक इसका कोई इलाज भी वैज्ञानिक खोज नहीं पाएं हैं WHO ने भी कोरोना वायरस को इंटरनेशनल आपातकाल घोषित कर दिया हैं।

  1. किसी भी चीज को चुने के बाद हाथों को अच्छी तरह साबुन से धोएं।
  2. खासते  या छीकतें  समय मुँह और नाक को रुमाल से ढँक लेवें।
  3. जिन व्यक्तियों में फ्लू  व कोल्ड के लक्षण दिखाई दे उन दूर रहें क्योंकि यह एक संक्रमित वायरस हैं जो एक व्यक्ति से दूसरे व्यक्ति  में फैलता हैं।
  4. अंडे एवं मांस का सेवन बिलकुल ही न करे ,क्योंकि कोरोना वायरस जानवरो से ही उत्पन्न हुआ हैं।
  5. जंगली जानवरो एवं अन्य पक्षियों के संपर्क में आने से बचें।

कोरोना वायरस किस प्रकार फैलता हैं ?

कोरोना वायरस प्रमुख रूप से हवा के माध्यम से फैलता हैं जब कोई संक्रमित व्यक्ति खासता  या छींकता हैं तो वायरस हवा के माध्यम से दूसरे व्यक्तिों में  प्रवेश कर जाता हैं, अब तक तो ना ही कोई वैक्सीन बन पायी हैं इस वायरस की और न ही कोई इलाज। कोरोना वायरस से पीड़ित इंसान को चुने से भी यह फैलता हैं ,आसान भाषा में कहें तो अगर कोई व्यक्ति कोरोना वायरस से पीड़ित हैं तो दूसरा व्यक्ति अगर उसके संपर्क में आता हैं तो उसे भी इन्फेक्शन हो जाएंगे।

धन्यवाद दोस्तों अगर आपको हमारी यह पोस्ट पसंद आई हो तो नीचे कमेंट और शेयर करना न भूले।

ये भी पढ़े –

 

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *